मेरी पहली पुस्तक

https://amzn.to/3fu30B9

मेरे जीवन की जितनी भी करुणा है वो पूरी तरह से इसमें भर दी। जो कुछ कह नहीं पायी वो चुपके-से कह दी।😄😄🤗🤗

मेरी पहली पुस्तक आज प्रकाशित हो गई। आप सबने मेरे ब्लॉग को बहुत स्नेह दिया उसके लिए बहुत-बहुत धन्यवाद।आशा करती हूँ मेरे प्रयास को मेरी पुस्तक“करुणा!मेरे जीवन की” को भी खूब स्नेह देंगें और अगर गलती हो तो अपने विचार प्रकट कर मुझे उन्हें सुधारने का अवसर देंगें।

Hey everyone,

Aaj itni khush or utsaahit hu ki samajh nhi pa rhi kya kahu kya nahi.lekin aap sabse aasha krti hu aap sab meri pehli pustak ko zaroor padhenge or mujhe protsahit krenge 🙏🙏🙏🙏🙏

Published by Ps Pooja

Writing is my passion.

8 thoughts on “मेरी पहली पुस्तक

  1. बहुत बहुत बधाई हो आपको

    कहते आज जीवन धरा
    नही स्थिर किसी का यहाँ
    स्थिर उसी का होता धरा,जो
    शब्दो सहारे जीता यहाँ।।

    आपका जीवन अमिट हुआ
    सदा धरा आप होंगे यहाँ
    शब्द पहचान कराएंगे आपकी
    किताब आपकी होगी गवाह यहाँ।।

    Liked by 2 people

  2. बहुत-बहुत बधाई। अब तो मेरा भी मन हो रहा है अपनी पुस्तक निकालने का। अपना नाम कवर में देखना का आनंद ही कुछ और होगा 😀

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: